10.1 C
Munich
Saturday, October 1, 2022

Pet ki Charbi Kam Karne ki Exercise

Must read

Erric Ravihttps://www.gurgaontimes.co.in
Erric Ravi is an entrepreneur, speaker & the founder of Storify News and Recent News He is the Co-Founder of The Storify News Times. Forbes calls him a top influencer of Chief Marketing Officers and the world’s top social marketing talent. Entrepreneur lists him among 50 online marketing influencers to watch. Inc.com has him on the list of 20 digital marketing experts to follow on Twitter. Oanalytica named him #1 Global Content Marketing Influencer. BizHUMM ranks him as the world’s #1 business blogger.

कुछ भी खा लेने या हर समय खाते रहने की आदत की वजह से तोंद निकल आती है। पेट की चर्बी को कम करने के कई तरीके हैं जिनमें से एक योग भी हैं। कुछ योगासनों की मदद से पेट पर जितना ज्‍यादा फैट होगा, उतना ही ज्‍यादा बीमारियों का खतरा भी बढ़ेगा। हालांकि, संतुलित आहार, व्‍यायाम और योग की मदद से काफी हद तक बैली फैट को कम किया जा सकता है। कुछ ऐसे योगासन हैं जिनकी मदद से पेट की चर्बी को बहुत ही कम समय में कम किया जा सकता है। ये योगासन न केवल पेट से फैट काे कम करते हैं बल्कि शरीर और मस्तिष्‍क को भी स्‍वस्‍थ रखते हैं।
तो चलिए जानते हैं पेट की चर्बी कम करने वाले योगासन के बारे में।

​पेट की चर्बी कम करने के लिए योग है समस्‍थिति आसन

इस आसन से शरीर में ब्‍लड सर्कुलेशन में सुधार आता है। यह आसन शरीर और मस्तिष्‍क दोनों को शां‍त करता है।

कैसे करें

  • सबसे पहले अपने पैरों को बिलकुल सीधा रखें और पंजों को एकसाथ रखें। एड़ी हल्‍की से दूरी पर होनी चाहिए।
  • अब अपने दोनों हाथों को सीधा ऊपर उठाएं और सिर के ऊपर ले जाएं। जितना हो सके हाथों को उतना खींचने की कोशिश करें।
  • अब धीरे-धीरे एडियों को ऊपर की ओर उठाएं और पंजों पर खड़े होने की कोशिश करें। अब दोनों हाथों की उंगलियों को आपस में मिलाएं।
  • सामान्‍य तरीके से सांस लें और इस मुद्रा में 20 से 30 सेकंड तक रहें।
  • फिर धीरे से वापिस सामान्‍य अवस्‍था में आ जाएं।

​पेट की चर्बी कम करने के योगासन में है मलासन

मलासन करने से पेट और कमर को मजबूती मिलता है एवं चर्बी कम होती है। इस आसन कब्‍ज और गैस की समस्‍या से भी छुटकारा मिलता है।

कैसे करें

  • इस आसन के लिए मल त्‍याग करने की मुद्रा में बैठ जाएं और हाथों को नमस्‍कार की मुद्रा में रखें। आपके दोनों पैरों के बीच थोड़ी दूरी होनी चाहिए।
  • दोनों हाथों की कोहनियों को नमस्‍कार की मुद्रा में ही दोनों घुटनों पर टिका दें।
  • इस मुद्रा में कुछ सेकंड रूकें और गहरी सांस लेते हुए बाहर छोड़ें।
  • अब बैठने की अवस्‍था में ही दोनों पैरों को एकसाथ लाएं और हाथों को आगे की ओर रखें।
  • इसके बाद दोनों हाथों को बगल की ओर ऊपर हवा में उठाते हुए सिर के ऊपर ले जाएं और दोनों हाथों को जोड़ दें।
  • अब दोनों हाथों को धीरे-धीरे वापिस नीचे की ओर लाएं और दोनों पैरों के पंजों के पास रखें।
  • इसी अवस्‍था में पीछे से कमर और कूल्‍हों को ऊपर उठाते हुए झुकें और फिर धीरे-धीरे ऊपर आते हुए सीधे खड़े हो जाएं।

​पेट अंदर करने की एक्सरसाइज है समकोणासन

इसे स्‍ट्रेट एंगल पोज भी कहा जाता है। इस आसन से कमर का निचला हिस्‍सा मजबूत होता है और कमर दर्द जैसी समस्‍याओं से छुटकारा मिलता है। समकोणासन से शरीर लचीला बनता है और रीढ़ की हड्डी स्थिर रहती है।

कैसे करें

  • सबसे पहले अपने दोनों पैरों को एक साथ रखें और दोनों हाथों को पहले सामने की ओर रखें।
  • अब हाथों को सिर के ऊपर ले जाकर सीधा रखें और फिर पीछे की ओर थोड़ा झुकें।
  • अब वापिस हाथों को सिर के ऊपर रखें और गहरी सांस भरते हुए अपनी कमर को 90 डिग्री के कोण में झुकाएं।
  • अब सांस को बाहर छोड़ते हुए सीधे खड़े हो जाएं।

​तोंद कम करने के लिए योग है उत्तानपादासन

उत्तानपादासन न केवल पेट की चर्बी को कम करता है बल्कि थायराइड, कब्‍ज, बदहजमी, डायबिटीज और चिंता से भी छुटकारा दिलाता है। इससे मांसपेशियां मजबूत होती हैं।

कैसे करें

  • इस आसन को करने के लिए शवासन की मुद्रा में लेट जाएं और हाथों को बिलकुल सीधा रखें।
  • अब घुटनों को मोड़ें और सांस भरते हुए दोनों पैरों को धीरे-धीरे एक से दो फीट तक ऊपर हवा की ओर लेकर जाएं।
  • जितनी देर तक सांस रोक सकते हैं, उतनी देर तक रोकने की कोशिश करें।
  • कमर को हल्‍का सा जमीन से ऊपर उठाएं और पैरौं को पीछे सिर की ओर ले जाने कोशिश करें।
  • दोनों हाथों को कमर के नीचे रखें।
  • अब सांस छोड़ते हुए धीरे-धीरे दोनों पैरों को आगे लाते हुए नीचे जमीन पर रखें।
- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article